img

भगवान कृष्ण और राधा को समर्पित कई मंदिरों के साथ आज मथुरा हिंदू भक्तों के लिए एक महत्वपूर्ण तीर्थस्थल है।

भगवान् कृष्ण की जन्मस्थली मथुरा को आज भी ब्रज भूमि या 'अनंत प्रेम की धरती' की तरह पूजा जाता है, यमुना नदी के तट पर स्थित यह नगरी को भारतीय संस्कृति और सभ्यता का प्रतीक माना जाता है।

img

विश्व का प्राचीनतम खड़ा हुआ ईंट का भीतरगाँव गुप्तकालीन हिन्दू मंदिर

भीतरगाँव भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के कानपुर नगर ज़िले में स्थित एक गाँव है।

img

वनेश्वर महादेव मंदिर भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के कानपुर देहात जिले में स्थित एक पौराणिक मंदिर है।

इस शिव मंदिर का निर्माण राक्षस राजा बलि के पुत्र वनासुर ने करवाया था, आज तक कोई भी यहां के रहस्य को नहीं सुलझा पाया है।

img

कानपुर शहर के सबसे पुराने मेमोरियल चर्च, इनकी अनूठी शिल्पकला आज भी लोगों को आकर्षित करती है

क्रिसमस के दिन  चर्चों में लोगों को प्रभु यीशु के सामने प्रार्थना करते देखा जा सकता है। चूंकि प्रत्येक चर्च का अपना अलग इतिहास होता है।

img

उत्तर प्रदेश का इतिहास

उत्तर प्रदेश भारत के उत्तर में एक राज्य है जो दो प्रमुख नदियों, गंगा और यमुना के संगम के लिए जाना जाता है, और पूरे देश में बड़ी संख्या में लोगों को आश्रय भी देता है।

 

img

मथुरा में कई बड़े से बड़े प्रसिद्ध मंदिर हैं जो अपने आप में बड़ी विशेषता रखते हैं,

इन मंदिरों में 7 ऐसे प्रसिद्ध मंदिर हैं जिन्हें एक लेख में  लोकप्रिय मंदिरों की सूची में शामिल किया गया है।

img

कुशीनगर भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के कुशीनगर ज़िले में स्थित एक नगर है।

कुशीनगर एक ऐतिहासिक स्थल है जहाँ महात्मा बुद्ध का महापरिनिर्वाण हुआ था। 

img

गोरखनाथ मंदिर नामक एक मंदिर उनके सम्मान में उस स्थान पर बनाया गया था जहां उन्होंने अपनी साधना की थी।

गोरखपुर का नाम गोरखनाथ से लिया गया है, जो 'नाथ संप्रदाय' के संत थे।

img

काशी के प्राचीन स्थल सारनाथ में भगवान बुद्ध ने अपना पहला उपदेश यहीं दिया था।

बौद्ध धर्म के अनुसार, यहाँ पर हुई वास्तुकला को एक तरह से  धर्म चक्र प्रवर्तन का नाम दिया गया है।

img

वृन्दावन, भारत के उत्तर प्रदेश राज्य के मथुरा ज़िले में स्थित एक महत्वपूर्ण धार्मिक व ऐतिहासिक नगर है।

वृन्दावन श्री कृष्ण की कुछ अलौकिक बाल लीलाओं का केन्द्र माना जाता है।

img

संकट मोचन हनुमान मंदिर उत्तर प्रदेश राज्य के वाराणसी जिले में स्थित है।

हिंदू भगवान हनुमान को समर्पित इस हिंदू मंदिर की स्थापना 16 वीं शताब्दी में प्रसिद्ध हिंदू उपदेशक और कवि संत श्री गोस्वामी तुलसीदास ने की थी।

img

द्वादश ज्योतिर्लिंगों में प्रमुख काशी विश्वनाथ मंदिर अति प्राचीन काल से काशी में है।

काशी का यह विश्वनाथ मंदिर शिव और पार्वती का मूल स्थान है, इसीलिए अविमुक्तेश्वर को आदिलिंग के रूप में पहला लिंग माना जाता है। 

img

इस जेके मंदिर में श्री राधाकृष्ण की कृपा से मंगनी और विवाह

श्री राधाकृष्ण मंदिर का निर्माण पसिंघानिया परिवार के जेके ट्रस्ट ने करवाया था, यहां आने पर बिगड़े काम बनते हैं।

img

बरसाना में एक पहाड़ी पर राधा रानी मंदिर स्थित है।

राधा रानी मंदिर के ऊपर राधा रानी मंदिर है जिसे बरसाने की लाड़ली जी का मंदिर भी कहा जाता है।

img

ऋषि व्यास को भोजन कराने मां विशालाक्षी कैसे बनी मां अन्नपूर्णा, पढ़ें पौराणिक कथा

भारत का ऐसा रहस्यमयी मंदिर जो कभी दिखाई देता है तो कभी अपने आप गायब हो जाता है

Popular

Popular Post